Wed. Apr 17th, 2024
छठ महापर्व की तैयारियां पूरी बीहर नदी के घाटों में

सतना न्यूज़ आज – आपका आज का स्रोत सतना शहर की खबर। हमारी टीम सतना नगर की ताज़ा और महत्वपूर्ण ख़बरों को प्रस्तुत करने के लिए समर्पित है।

आज, हम आपके साथ एक नई ख़बर साझा करना चाहते हैं Satna News Today

आशुतोष तिवारी/रीवा. इस साल आस्था का महापर्व छठ की पूजा 17 नवंबर 2023 से पड़ रही है, जो 20 नवंबर को समाप्त होगी. यह त्यौहार उत्तर भारत के साथ-साथ मध्य प्रदेश के रीवा में भी बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। रीवा में बीहर नदी के तट पर छठ पर्व की तैयारियां शुरू हो गई हैं. ये तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं. चुनाव के बीच छठ पर्व को लेकर प्रशासन ने भी तैयारी कर ली है. उत्तर प्रदेश से सटा होने के कारण रीवा जिले में भी इस पर्व का विशेष महत्व है। इस दिन महिलाएं व्रत रखती हैं।

छठ पर्व की मान्यता
आचार्य शिवम शुक्ला बताते हैं कि यह व्रत संतान के सुखी जीवन की कामना के लिए किया जाता है। यह व्रत बहुत कठिन है. व्रत को कड़े नियमों का पालन करते हुए 36 घंटे तक रखा जाता है। इस व्रत को करने से महिलाओं की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। छठ पर्व षष्ठी तिथि से दो दिन पहले यानी चतुर्थी से नहाय-खाय के साथ शुरू होता है और सप्तमी तिथि को समाप्त होता है. आचार्य शिवम शुक्ला बताते हैं कि भगवान वासुदेव श्रीकृष्ण ने स्वयं द्रौपदी को कठोर व्रत रखने को कहा था। द्रौपदी ने पूरे विधि-विधान से छठी मैया की पूजा करके यह कठिन व्रत किया था और इसी व्रत के कारण पांडवों को राजपाठ मिला था। इस पर्व में मुख्य रूप से माली सूर्य देव को अर्घ्य दिया जाता है।

समुद्र मंथन से यहीं प्रकट हुई थीं महालक्ष्मी, जानिए रहस्य

सम्बंधित खबर

रीवा में छठ पर्व मनाने की तैयारी हो चुकी है.
मध्य प्रदेश के रीवा में भी इस त्योहार को लेकर महिलाओं में उत्साह है. यह महापर्व बिहार नदी के तट पर मनाया जाएगा. यह पर्व देवी घाट, बाबा घाट, राजघाट, पटपरा घाट समेत बड़ी पुल के पास मनाया जायेगा. ये महिलाएं भगवान सूर्य को अर्घ्य देंगी. जिले के इन घाटों पर इस महापर्व की तैयारी की जा रही है. नदियों और तालाबों के किनारे रोशनी की व्यवस्था भी की जा रही है. आस्था के इस महापर्व को लेकर श्रद्धालुओं ने भी तैयारियां तेज कर दी हैं. लोग खरीदारी के लिए बाजारों में पहुंच रहे हैं।

.

हम निरंतर नवीनतम और महत्वपूर्ण ख़बरों को आपके सामने पेश करने के लिए काम कर रहे हैं, इसलिए हमारी वेबसाइट पर और भी ख़बरों के लिए बने रहें। हमारे समुदाय का हिस्सा बनने के लिए धन्यवाद!
Satna News Today

#छठ #महपरव #क #तयरय #पर #बहर #नद #क #घट #म #दखन #क #मलग #झलकय #News18 #हद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *